Skip to content
Advertisements

Exam Pattern and Syllabus for RPSC Sub Inspector Recruitment 2022

Advertisements

Exam Pattern and Syllabus for RPSC Sub Inspector Recruitment :- राजस्थान लोक सेवा आयोग, जयपुर के द्वारा आयोजित होने वाली राजस्थान पुलिस सब इंस्पेक्टर की भर्ती के लिए सम्पूर्ण पाठ्यक्रम हमारे द्वारा इस आर्टिकल में निचे दिया गया है। इस लेख को पद कर अभ्यर्थी आसानी से RPSC Sub Inspector भर्ती के लिए पाठ्यक्रम आसानी से जान सकता है और इस आर्टिक्ल में हमारे द्वारा सब इंस्पेक्टर भर्ती के लिए RPSC के द्वारा निर्धारित पाठ्यक्रम की PDF का डाउनलोड लिंक भी दिया गया है। अभ्यर्थी उस लिंक पर क्लिक करके आसानी से सब इंस्पेक्टर के Syllabus की PDF डाउनलोड कर सकता है।

Syllabus for RPSC Sub Inspector Recruitment

Selection Process

▶ Written Exam / प्रतियोगी परीक्षा

Advertisements

▶ Physical Efficiency Test (PET) / शारीरिक दक्षता परीक्षा

▶ Interview / साक्षात्कार

Exam Pattern for RPSC Sub Inspector Recruitment

किसी भी प्रतियोगी परीक्षा में उत्तीर्ण होने के लिए सर्वप्रथम अभ्यर्थी को यह पता होना चाहिए की उस प्रतियोगी परीक्षा का प्रारूप क्या होगा? परीक्षा में कितने प्रश्न पूछे जायेंगे और परीक्षा की समयावधि क्या रहेगी? यदि कोई अभ्यर्थी किसी प्रतियोगी परीक्षा में पास होना चाहता है तो उसे उस प्रतियोगी परीक्षा संबंधित सम्पूर्ण जानकारी होनी चाहिए जैसे की परीक्षा का पाठ्यक्रम क्या रहेगा, परीक्षा में कितने प्रश्न पूछे जायेंगे, परीक्षा का समय इतियादी।

RPSC Sub Inspector भर्ती के लिए होने वाली लिखित परीक्षा के लिए परीक्षा प्रारूप निम्नानुसार रहेगा :-

PaperSubjectQuestionsMarksTime
IHindi2002002 Hour for Each Paper
IIGeneral Knowledge and General Science200200

Note :- 

  1. प्रत्येक पेपर में 200 प्रश्न पूछे जायेंगे और प्रत्येक प्रश्न 1 अंक का होगा।
  2. पेपर में पूछे गए समस्त प्रश्न वस्तुनिष्ठ होंगे। प्रत्येक प्रश्न के लिए 4 ऑप्शन दिए जायेंगे और अभ्यर्थी को उन 4 विकल्पों में से किसी एक सही विकल्प का चयन करना होगा।
  3. परीक्षा में नकारात्मक अंकन भी किया जायेगा। प्रत्येक गलत उत्तर के लिए 1/3 अंक काटे जायेंगे।
  4. प्रत्येक पेपर की परीक्षा के लिए समयावधि 2 घंटे की रखी जाएगी।
  5. परीक्षा द्विभाषी रूप से करवाई जाएगी यानि की परीक्षा हिंदी व इंग्लिश दोनों भाषाओं में प्रश्न पूछे जायेंगे।

Syllabus for RPSC Sub Inspector Recruitment

RPSC के द्वारा सब इंस्पेक्टर के लिए करवाई जाने वाली लिखित परीक्षा ऑफलाइन तौर पर करवाई जाएगी। परीक्षा में 2 पेपर होंगे और प्रत्येक पेपर में 200 प्रश्न पूछे जायेंगे। RPSC के द्वारा होने वाले दोनों पेपर के लिए पाठ्यक्रम निम्नानुसार रहेगा :-

Paper I :- सामान्य हिंदी

हिंदी

शब्द रचना :- सन्धि एवं सन्धि विच्छेद, समास, उपसर्ग, प्रत्यय

शब्द प्रकार :- (क) तत्सम, अर्द्धतत्सम, तद्भव, देशज, विदेशी  (ख) संज्ञा, सर्वनाम, विशेषण, क्रिया, अव्यय (क्रिया विशेषण, सम्बन्ध सूचक, विस्मयबोधक निपात)

शब्द ज्ञान :- पर्यायवाची, विलोम, शब्द युग्मों का अर्थ भेद, वाक्यांश के लिए सार्थक शब्द, समश्रुत भिन्नार्थक शब्द समानार्थी शब्दों का विवेक, उपयुक्त शब्द चयन, सम्बन्धवाची शब्दावली।

व्याकरणिक कोटियाँ :- परसर्ग, लिंग, वचन, पुरूष, काल, वृत्ति (mood), पक्ष (Aspect), वाच्य (Voice)

वाक्य शुद्धि, मुहावरे / लोकोक्तियाँ, शब्द शुद्धि, वाक्य रचना, 

पारिभाषिक शब्दावली :- प्रशासनिक, विधिक (विशेषतः)

Paper II :- General Knowledge And General Science Syllabus

राजस्थान का साहित्य, कला, इतिहास, परंपरा, संस्कृति और विरासत

  1. राजस्थान के इतिहास में महत्वपूर्ण राजवंश व स्थलचिह्न तथा इनकी सामाजिक-सांस्कृतिक मुद्दे और राजस्व व प्रशासनिक प्रणाली।
  2. स्वतंत्रता आंदोलन, राजनीतिक जागृति और एकता
  3. राजस्थान के महत्वपूर्ण किले और स्मारक व राजस्थान की वास्तुकला
  4. कला, पेंटिंग और हस्तशिल्प।
  5. राजस्थानी साहित्य की महत्वपूर्ण कृतियाँ। स्थानीय बोलियाँ
  6. मेले, त्यौहार, लोक संगीत और लोक नृत्य।
  7. राजस्थानी संस्कृति, परंपराएं और विरासत।
  8. राजस्थान के लोक देवता, संत और धार्मिक आंदोलन।
  9. महत्वपूर्ण पर्यटन स्थल।
  10. राजस्थान की प्रमुख हस्तियां

भारतीय इतिहास

प्राचीन और मध्यकालीन काल:

  • प्राचीन और मध्यकालीन भारत की मुख्य विशेषताएं और प्रमुख स्थलचिह्न
  • कला, संस्कृति, साहित्य और वास्तुकला।
  • प्रमुख राजवंश, उनकी प्रशासनिक व्यवस्था। सामाजिक-आर्थिक स्थितियां, प्रमुख आंदोलन।

आधुनिक काल:

  • भारत का आधुनिक इतिहास (अठारहवीं शताब्दी से लेकर वर्तमान समय तक) व व्यक्तित्व और मुद्दे, महत्वपूर्ण घटनाएं।
  • स्वतंत्रता संग्राम और भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन- इसके विभिन्न चरण और देश के विभिन्न हिस्सों से महत्वपूर्ण योगदानकर्ता और योगदान।
  • 19वीं और 20वीं शताब्दी में धार्मिक व सामाजिक सुधार आंदोलन।
  • आज़ादी के बाद देश में पुनर्गठन व समेकन।

विश्व और भारत का भूगोल

विश्व का भूगोल:
  • व्यापक भौतिक विशेषताएं।
  • पर्यावरण और पारिस्थितिक मुद्दे।
  • वन्यजीव और जैव-विविधता।
  • अंतर्राष्ट्रीय जलमार्ग।
  • प्रमुख औद्योगिक क्षेत्र।
भारत का भूगोल
  • व्यापक भौतिक विशेषताएं और प्रमुख भौगोलिक विभाजन।
  • कृषि और कृषि आधारित गतिविधियाँ।
  • खनिज – मैंगनीज, लोहा, तेल, कोयला, परमाणु खनिज और गैस।
  • प्रमुख उद्योग और औद्योगिक विकास।
  • परिवहन- प्रमुख परिवहन गलियारे।
  • प्राकृतिक संसाधन।
  • पर्यावरणीय समस्याएं और पारिस्थितिक मुद्दे।
राजस्थान का भूगोल
  • व्यापक भौतिक विशेषताएं और प्रमुख भौगोलिक विभाजन।
  • राजस्थान के प्राकृतिक संसाधन
  • जलवायु, प्राकृतिक वनस्पति, वन, वन्य जीवन और जैव विविधता
  • प्रमुख सिंचाई परियोजनाएँ।
  • खान और खनिज।
  • जनसंख्या।
  • प्रमुख उद्योग और औद्योगिक विकास की संभावनाएं

भारतीय संविधान, राजनीतिक व्यवस्था और शासन

संवैधानिक विकास और भारतीय संविधान :-
भारत सरकार का अधिनियम :- 1919 और 1935 संविधान सभा, संघीय संरचना, प्रस्तावना, जनहित याचिका (पी.आई.एल.) राज्य के निदेशक सिद्धांत, मौलिक कर्तव्य, मौलिक अधिकार, भारतीय संविधान की प्रकृति, संवैधानिक संशोधन, आपातकालीन प्रावधान, और न्यायिक समीक्षा।

भारतीय राजनीतिक व्यवस्था और शासन :-

  1. भारतीय राज्य की प्रकृति, राजनीतिक दल, राष्ट्रीय एकता, लोकतंत्र, गठबंधन सरकारें, राज्यों का पुनर्गठन।
  2. संघ और राज्य कार्यकारिणी; संघ और राज्य विधानमंडल, न्यायपालिका
  3. राष्ट्रपति, चुनाव आयोग, केंद्रीय सतर्कता आयोग (CVC), संसद, नियंत्रक और महालेखा परीक्षक, सुप्रीम कोर्ट, केंद्रीय सूचना आयोग, लोकपाल, राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC), योजना आयोग, राष्ट्रीय विकास परिषद,
  4. स्थानीय स्वशासन और पंचायती राज

सार्वजनिक नीति और अधिकार:-

  1. कल्याणकारी राज्य के रूप में राष्ट्रीय सार्वजनिक नीति।
  2. विभिन्न कानूनी अधिकार और नागरिक चार्टर।

राजस्थान की राजनीतिक और प्रशासनिक व्यवस्था

  1. राज्यपाल, मुख्यमंत्री, राज्य विधानसभा, उच्च न्यायालय, राजस्थान लोक सेवा आयोग, जिला प्रशासन, राज्य मानवाधिकार आयोग, लोकायुक्त, राज्य चुनाव आयोग, राज्य सूचना आयोग।
  2. सार्वजनिक नीति, कानूनी अधिकार और नागरिक चार्टर।

आर्थिक अवधारणाएं और भारतीय अर्थव्यवस्था

अर्थशास्त्र की मूल अवधारणाएँ :-

  1. बजट, बैंकिंग, सार्वजनिक वित्त, राष्ट्रीय आय, विकास और विकास का बुनियादी ज्ञान
  2. लेखांकन- प्रशासन में अवधारणा, उपकरण और उपयोग
  3. स्टॉक एक्सचेंज और शेयर बाजार
  4. राजकोषीय और मौद्रिक नीतियां
  5. सब्सिडी, सार्वजनिक वितरण प्रणाली
  6. ई-कॉमर्स
  7. मुद्रास्फीति- अवधारणा, प्रभाव और नियंत्रण तंत्र

आर्थिक विकास एवं योजना :-

  1. पंचवर्षीय योजनाएँ – उद्देश्य, रणनीतियाँ और उपलब्धियाँ।
  2. अर्थव्यवस्था के प्रमुख क्षेत्र- कृषि, उद्योग, सेवा और व्यापार- वर्तमान स्थिति, मुद्दे और पहल।
  3. प्रमुख आर्थिक समस्याएं और सरकारी पहल, आर्थिक सुधार और उदारीकरण

मानव संसाधन और आर्थिक विकास :-

  1. मानव विकास सूची
  2. गरीबी और बेरोजगारी:- अवधारणा, प्रकार, कारण, उपचार और वर्तमान प्रमुख योजनाएं।

सामाजिक न्याय और अधिकारिता:- कमजोर वर्गों के लिए प्रावधान।

राजस्थान की अर्थव्यवस्था

  • अर्थव्यवस्था का मैक्रो सिंहावलोकन।
  • प्रमुख कृषि, औद्योगिक और सेवा क्षेत्र के मुद्दे।
  • विकास, विकास और योजना।
  • बुनियादी ढांचा और संसाधन।
  • प्रमुख विकास परियोजनाएं।
  • कार्यक्रम और योजनाएं- अनुसूचित जाति/अनुसूचित जनजाति/पिछड़े वर्ग/अल्पसंख्यकों/विकलांग व्यक्तियों, निराश्रितों, महिलाओं, बच्चों, वृद्ध लोगों, किसानों और मजदूरों के लिए सरकारी कल्याण योजनाएं।

विज्ञान प्रौद्योगिकी

  • रोजमर्रा के विज्ञान की मूल बातें।
  • इलेक्ट्रॉनिक्स, कंप्यूटर, सूचना और संचार प्रौद्योगिकी।
  • उपग्रहों सहित अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी।
  • रक्षा प्रौद्योगिकी।
  • नैनो तकनीक।
  • मानव शरीर, भोजन और पोषण, स्वास्थ्य देखभाल।
  • पर्यावरण और पारिस्थितिक परिवर्तन और इसके प्रभाव।
  • जैव विविधता, जैव प्रौद्योगिकी और आनुवंशिक इंजीनियरिंग।
  • राजस्थान के विशेष संदर्भ में कृषि, बागवानी, वानिकी और पशुपालन।
  • राजस्थान में विज्ञान और प्रौद्योगिकी का विकास।

तर्क और मानसिक क्षमता

लॉजिकल रीजनिंग (डिडक्टिव, इंडक्टिव, एबडक्टिव) :- स्टेटमेंट एंड असम्पशन, स्टेटमेंट एंड आर्गुमेंट, स्टेटमेंट एंड कनक्लूजन, कोर्स ऑफ एक्शन, एनालिटिकल रीजनिंग।

मानसिक क्षमता:- संख्या श्रंखला, अक्षर श्रंखला, ऑड मैन आउट, कोडिंग-डिकोडिंग, संबंधों से संबंधित समस्याएं, आकार और उनके उप खंड।

बुनियादी संख्यात्मकता: गणितीय और सांख्यिकीय विश्लेषण का प्रारंभिक ज्ञान। संख्या प्रणाली, परिमाण का क्रम, अनुपात और अनुपात, प्रतिशत, साधारण और चक्रवृद्धि ब्याज, डेटा विश्लेषण (तालिकाएं, बार आरेख, रेखा ग्राफ, पाई-चार्ट)।

Current Affairs

  • राज्य की प्रमुख समसामयिक घटनाएं और मुद्दे (राजस्थान), राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व
  • हाल के समाचारों में व्यक्ति और स्थान
  • खेल और खेल संबंधी गतिविधियां

Important Link

Paper I PDF DownloadSI Syllabus PDF
Paper II PDF DownloadRajasthan SI Syllabus PDF
Official WebsiteRPSC Official Website

Frequently Asked Questions (FAQ’s)

(Q.1) राजस्थान पुलिस सब इंस्पेक्टर का सिलेबस क्या है??
Ans. राजस्थान पुलिस सब इंस्पेक्टर भर्ती के लिए होने वाली परीक्षा के लिए सिलेबस में हिन्द, इतिहास, साइंस, सामान्य ज्ञान, रीजनिंग आदि शामिल है।

(Q.2) SI के कितने पेपर होते हैं?
Ans. SI भर्ती के लिए कुल 2 पेपर करवाए जाते है और प्रत्येक पेपर 2 घंटे का होता है।

(Q.3) राजस्थान SI का पेपर कितने नंबर का होता है?
Ans. राजस्थान SI भर्ती के लिए कुल 2 पेपर होते है और प्रत्येक पेपर 200 अंको का होता है।

(Q.4) राजस्थान पुलिस सब इंस्पेक्टर कैसे बने?
Ans. राजस्थान SI बनने के लिए आपको RPSC द्वारा इस पद के लिए होने वाली भर्ती परीक्षा और Physical Test में पास होना जरूरी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.